propeller

Thursday, 27 July 2017

ख़ास नज़र : बॉलीवुड के वह स्टार जो किसी न किसी अपराध में जेल ज...

ख़ास नज़र : बॉलीवुड के वह स्टार जो किसी न किसी अपराध में जेल ज...: बॉलीवुड के वह स्टार जो किसी न किसी अपराध में जेल जा चुके है !! बॉलीवुड में ऐसे कई बड़े स्टार हैं जो किसी न किसी अपराध की वजह जेल जा चुके ...

Saturday, 22 July 2017

बॉलीवुड के वह स्टार जो किसी न किसी अपराध में जेल जा चुके है !!

बॉलीवुड के वह स्टार जो किसी न किसी अपराध में जेल जा चुके है !!
बॉलीवुड में ऐसे कई बड़े स्टार हैं जो किसी न किसी अपराध की वजह जेल जा चुके हैं. ऐसे ही कुछ स्टार्स के बारे में हम आपको बता रहे हैं
संजय दत्त
संजय दत्त को साल 1993 के मुंबई हमलों के दौरान गैर कानूनी ढंग से हथियार रखने के जुर्म में दोषी पाया गया था. वे स जुर्म में दोषी साबित हुए थे और इसलिए साल 2006 में उन्हें दोषी करार दिया गया था.
अभिनेता संजय ने 18 महीने जेल में गुजारे और फिर जमानत पर बाहर आए. मार्च 2013 में सुप्रीम कोर्ट ने संजय दत्त की सजा को जारी रखा लेकिन उनकी छह साल की सजा को घटा कर पांच साल कर दिया.
सैफ अली खान
सुपरस्टार सैफ अली खान भी साल 2012 में जेल की हवा खा चुके हैं. सैफ ने मुंबई के एक होटल में खाना खाने पहुंचे एक एनआरआई को घूंसा मारा. पीड़ित की नाक तक टूट गई थी. पीड़ित के मुताबिक उन्होंने सैफ से धीमी आवाज में बात करने को कहा था, जिस पर सैफ अली खान ने उसकी नाक पर घूंसा मार दिया.
शाइनी आहूजा
शाइनी आहूजा को साल 2011 में अपने घर में काम करने वाली महिला के बलात्कार के आरोप में 27 दिनों तक जेल में रहना पड़ा. इसके बाद वह जमानत पर बाहर आए. बाद में महिला ने मामला वापस ले लिया लेकिन इस बात का शाइनी के करियर पर काफी प्रभाव पड़ा.

फरदीन खान फरदीन खान भी जेल की हवा खा चुके हैं. साल 2001 में उन्हें कोकेन रखने के मामले में गिरफ्तार किया गया. फरदीन के पुनर्सुधार कार्यक्रम के लिए तैयार हो जाने पर अदालती कार्रवाई बंद हो गई.


मधुर भंडारकर

डायरेक्टर मधुर भंडारकर महिलाओं पर आधारित चांदनी बार, सत्ता, पेज 3 और फैशन जैसी फिल्में बना चुके हैं. मधुर भंडारकर पर अभिनेत्री बनने की इच्छुक एक लड़की ने बलात्कार का आरोप लगाया इसी वजह से उन्हें जेल भी जाना पड़ा लेकिन सबूतों के अभाव में भंडारकर को बरी कर दिया गया.

Thursday, 20 July 2017

नौकरी या बिज़नेस ??

नौकरी या बिज़नेस ??
एक बडी कंपनी के गेट के सामने एक प्रसिद्ध समोसे की दुकान थी, लंच टाइम मे अक्सर कंपनी के कर्मचारी वहाँ आकर समोसे खाया करते थे।
एक दिन कंपनी के एक मैनेजर समोसे खाते खाते समोसेवाले से मजाक के मूड मे आ गये।
मैनेजर साहब ने समोसेवाले से कहा, "यार गोपाल, तुम्हारी दुकान तुमने बहुत अच्छे से maintain की है, लेकीन क्या तुम्हे नही लगता के तुम अपना समय और टैलेंट समोसे बेचकर बर्बाद कर रहे हो.? सोचो अगर तुम मेरी तरह इस कंपनी मे काम कर रहे होते तो आज कहा होते.. हो सकता है शायद तुम भी आज मैंनेजर होते मेरी तरह.."
इस बात पर समोसेवाले गोपाल ने बडा सोचा, और बोला, " सर ये मेरा काम अापके काम से कही बेहतर है, 10 साल पहले जब मै टोकरी मे समोसे बेचता था तभी आपकी जाॅब लगी थी, तब मै महीना हजार रुपये कमाता था और आपकी पगार थी १० हजार।
इन 10 सालो मे हम दोनो ने खूब मेहनत की..
आप सुपरवाइजर से मॅनेजर बन गये.
और मै टोकरी से इस प्रसिद्ध दुकान तक पहुँच गया.
आज आप महीना ५०,००० कमाते है
और मै महीना २,००,०००
लेकिन इस बात के लिए मै मेरे काम को आपके काम से बेहतर नही कह रहा हूँ।
ये तो मै बच्चों के कारण कह रहा हूँ।
जरा सोचिए सर मैने तो बहुत कम कमाई पर धंधा शुरू किया था, मगर मेरे बेटे को यह सब नही झेलना पडेगा।
मेरी दुकान मेरे बेटे को मिलेगी, मैने जिंदगी मे जो मेहनत की है, वो उसका लाभ मेरे बच्चे उठाएंगे। जबकी आपकी जिंदगी भर की मेहनत का लाभ आपके मालिक के बच्चे उठाएंगे।
अब आपके बेटे को आप डाइरेक्टली अपनी पोस्ट पर तो नही बिठा सकते ना.. उसे भी आपकी ही तरह जीरो से शुरूआत करनी पडेगी.. और अपने कार्यकाल के अंत मे वही पहुच जाएगा जहाँ अभी आप हो।
जबकी मेरा बेटा बिजनेस को यहा से और आगे ले जाएगा..
और अपने कार्यकाल मे हम सबसे बहुत आगे निकल जाएगा..
अब आप ही बताइये किसका समय और टैलेंट बर्बाद हो रहा है ?"
मैनेजर साहब ने समोसेवाले को २ समोसे के २० रुपये दिये और बिना कुछ बोले वहाँ से खिसक लिये

Saturday, 15 July 2017

इसी तरह हिजाब वाली से कोई बदतमीजी होती है तो ईसाई और यहूदी औरतें

आमतौर पर हर इस्लामी स्कॉलर या मुक़र्रिर अपने खिताब में एक बात जरूर कहता है कि मुसलमानो के सबसे बड़े दुश्मन यहूद और नसारा हैं और इस्लामी दुनिया के खिलाफ इन्होंने एक लंबा रक्त रंजित युद्ध लड़ा था जिसे ये क्रूसेड कहते हैं।

दूसरी तरफ हमारा प्यारा भारतवर्ष है , जिसके निवासियों याने हिंदुओं के साथ यहां के मुसलमानो का रक्त सम्बन्ध है ।यहां के अधिकतर मुसलमानों के पूर्वज हिन्दू ही थे और यहां के हिंदुओं को उदार और सहिष्णु कहा जाता है।।।
आइये ज़रा देखें कि ईसाई देशों और भारत देश मे क्या क्या भिन्नताएं हैं।

अमेरिका में जब मुसलमानों के खिलाफ जब हेट स्पीच आती है तो हज़ारो ईसाई परिवार अपने घर के बाहर लिख देते है कि 'मैं मुस्लिम हूँ।'
इसी तरह हिजाब वाली से कोई बदतमीजी होती है तो ईसाई और यहूदी औरतें मुसलमान औरतों के साथ हिजाब पहनकर प्रदर्शन करती है।।।
इसी तरह ब्रिटेन में मस्जिद के बाहर एक ईसाई शख्स मुसलमानों पर गाड़ी चढ़ा देता है, फिर उसी मस्जिद का इमाम उसे बचाता है।अगले ही दिन ईसाई भी मुसलमानों के सपोर्ट में सड़क पर दिखाई देते है। इस तरह की चीजें पश्चिम में आमतौर पर दिख जाती है।उन देशों में , जिन्हें इस्लाम का सबसे बड़ा दुश्मन माना जाता है।।।नीदरलैंड और फ्रांस के चुनावों में आपने देखा होगा कि जनता ने उन कट्टरपंथी नेताओ को धूल चटा दी जिन्होंने चुनाव जीतने पर मस्जिदों को बंद करा देने की घोषणा की थी , और जनता ने मेंक्रो जैसे उदारवादी को सत्ता सौंप दी ///
पर हमारे उदार और सहिष्णु देश मे विडम्बना यह है कि हिन्दू समाज अपने कट्टरपंथियों का विरोध करना तो दूर , उल्टे उनको अपना मसीहा और हृदय सम्राट बना लेता है और चुनाव में उनको भारी बहुमत से जिता कर उनको सत्ता सौंप देता है।कल ही एक नेता ने बयान दिया है कि अमरनाथ हमले के विरोध में हजयात्रियों पर हमले किये जाएंगे। कोई साध्वी कहती है कि भारत को मुस्लिम मुक्त किया जाएगा। लोग सड़कों पर निर्दोष मुस्लिमों को मार रहे हैं और शेष हिन्दू जनता या तो वीडियो बना रही है या इस कांड को मौन समर्थन दे रही है///
.
अब आप बताइए कि पश्चिम के ईसाई बहुसंख्यक समाज और भारत के हिन्दू समाज मे कितना बड़ा अंतर है ///
महान भारत के लिए सामजिक सदभाव सबसे ज्यादा जरूरी है जो खत्म होता जा रहा है।तो क्या अब यह मान लिया जाए कि जहां एक ओर यहूदो नसारा ने मुसलमानो से अपनी दुश्मनी को भुला दिया है और एक नया , सभ्य, प्रगतिशील राष्ट्र बनने की ओर अग्रसर है
, वहीं दूसरी ओर भारत के उदार और सहिष्णु कहे जाने वाले हिन्दू समाज ने मुसलमानो से अपने बरसों पुराने रक्त-सम्बन्धों को भुला दिया है और देश मे ऐसी स्थिति के निर्माण में मदद कर रहा है जो अंततः इस महान देश को गृहयुद्ध की राह पर ले जाने वाला है ???
मोहम्मद आरिफ दगिया
14/07/2017

नेपाल में स्वाइन फ्लू ने की एंट्री !

भारत से सटे नेपाल के जिलों में स्वाइन फ्लू ने अपना प्रकोप फैकना शुरू कर दिया है ! पोखरा , पाल्पा जिलों में स्वयंव फ्लू तेज़ी से फ़ैल रहा...