propeller

Thursday, 23 June 2016

47वीं बार हुए परीक्षा में नाकाम, 10वीं पास करने के बाद ही शादी करने की क़सम खाने वाले शिवचरण

47वीं बार हुए परीक्षा में नाकाम, 10वीं पास करने के बाद ही शादी करने की क़सम खाने वाले शिवचरण


राजस्थान निवासी 82 वर्षीय शिव चरण ने कसम खायी हुई है कि जब तक वह 10 वीं कक्षा की परीक्षा पास नहीं कर लेंगे तब तक शादी नहीं करेंगे |
रविवार को  राजस्थान बोर्ड के 10 वीं कक्षा के परिणाम की घोषणा ने एक बार फिर उनकी उम्मीदों पर पानी फ़ेर दिया है इस बार वह 47 वीं बार परीक्षा पास करने में असफल रहे |
जयपुर से 140 किलोमीटर दूर बहरोड़ शहर में कोहरी गांव का निवासी शिवचरण को शिवोजिराम और पप्पू के नाम से भी जाना जाता है | शिव चरण एक मंदिर में रहता है,और  अपनी दैनिक जरूरतों को पूरा करने के लिए राज्य सरकार की वृद्धावस्था पेंशन पर निर्भर है।
शिव चरण ने सोमवार को आईएएनएस को से बात करते हुए कहा कि जब तक मैं जिंदा हूँ तब तक परीक्षा देता रहूँगा और ये सिर्फ़ परीक्षा पास करना नहीं है बल्कि इससे मुझे शादी करने का अवसर भी मिलेगा |
आँख,कान जोड़ों के दर्द की समस्याओं के बावुजूद वह परीक्षा पास करने के जूनून को बरक़रार रखे हुए हैं | उन्होंने कहा कि 1995 में मैंने  गणित को छोड़कर सभी विषयों में परीक्षा पास कर ली थी | हालाँकि इस बार सभी विषयों में विफल रहा कुछ में शून्य भी मिला | चरण ने अपनी पहली बोर्ड की परीक्षा 1969 में दी थी 

नेपाल में स्वाइन फ्लू ने की एंट्री !

भारत से सटे नेपाल के जिलों में स्वाइन फ्लू ने अपना प्रकोप फैकना शुरू कर दिया है ! पोखरा , पाल्पा जिलों में स्वयंव फ्लू तेज़ी से फ़ैल रहा...