propeller

Wednesday, 16 March 2016

'भारत माता की जय' पर ओवैसी को अख्तर का जवाब, MIM MLA असेंबली से सस्पेंड

.जावेद अख्तर ने राज्यसभा में दी आखिरी स्पीच में एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी पर जमकर निशाना साधा। अख्तर ने ‘भारत माता की जय’ नहीं बोलने वाले बयान पर ओवैसी को हैदराबाद के एक मोहल्ले का नेता बताया है। उधर, ओवैसी की पार्टी के विधायक वारिस पठान को महाराष्ट्र असेंबली से पूरे बजट सेशन के लिए सस्पेंड कर दिया गया है। पीटीआई के हवाले से खबर है कि पठान का सस्पेंशन ओवैसी के बयान को सपोर्ट करने पर हुआ है। अख्तर बोले, वो खुद को नेशनल लीडर समझते हैं...
मशहूर शायर ने राज्यसभा मेंक्या कहा?
#1. ओवैसी के भारत माता की जय नहीं बोलने पर
- अख्तर ने कहा, ''एक नेता ने खुद को नेशनल लीडर समझ लिया है, जबकि वो हैदराबाद के एक मोहल्ले का नेता है।''
- ''भारत माता की जय बोलने में हर्ज क्या है? यह हमारा फर्ज नहीं, बल्कि राइट है। मैं बोलता हूं (जयकारे लगाए) किसी ने मुझे रोका?''
- "अगर कॉन्स्टीट्यूशन में नहीं लिखा है भारत माता की जय बोलो, तो शेरवानी और टोपी पहनने की बात भी कहां लिखी है?"
- बता दें कि ओवैसी अक्सर शेरवानी और टोपी पहने ही नजर आते हैं।

#2. सरकार-अपोजिशन की अक्सर होने वाली लड़ाई पर
- जावेद ने कहा- ‘‘उर्दू के बहुत बड़े शायर मजाज कश्मीर गए। किसी ने पूछा कि यहां के कुदरती नजारे देखे? उन्होंने कहा कि हां बहुत अच्छे लगे। बस बीच में बहुत से पहाड़ आ गए। ...यहां (राज्यसभा) में भी बीच में बहुत से एडजर्नमेंट आ गए। नहीं तो और भी तकरीरें सुन लेता।’’
- उन्होंने कहा- ‘‘सरकारें तो उन मुल्कों में भी होती हैं जहां डिक्टेटरशिप है। लेकिन डेमोक्रेसी और इन हुकूमतों में फर्क क्या है? वहां सिर्फ सरकारें होती हैं। यहां सरकार और अपोजिशन दोनों होते हैं। खुशबू और रंग से मिलकर चमन में बात बनती है। हम ही हम हैं तो क्या हम हैं... तुम ही तुम हो तो क्या तुम हो...।’’
#3. नेताओं के भड़काऊ बयानों पर
- अख्तर ने ओवैसी ही नहींं, उन नेताओं को भी नसीहत दी जो भड़काऊ बयान देते हैं।
- कहा, "मैं अपने दिल की बात रखने पर लोगों को पाकिस्तान भेजने या देश छोड़ने वाले बयानों की निंदा करता हूं। सबकी बात सुनी जाए।"
- बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय और गिरिराज सिंह ने ओवैसी के बयान पर कहा था, ''भारत माता की जय नहीं बोलने वालों को देश छोड़ देना चाहिए।''
#4. सेक्युलरिज्म और फ्रीडम ऑफ पर
- अख्तर ने कहा, "हम ऐसा मुल्क चाहते हैं, जहां सबको बोलने की आजादी हो।"
- 15 मिनट के भाषण में अख्तर ने कहा, "डेमोक्रेसी सेक्युलरिज्म के बिना संभव नहीं है। किसी खास कम्युनिटी को सपोर्ट नहीं करके हमें सेक्युलरिज्म की रक्षा करनी चाहिए।"
- "अपोजिशन को चाहिए कि सरकार के साथ मिलकर बिजली, पानी, सड़क और किसानों के डेवलपमेंट के लिए काम करे।"
- अख्तर कुछ और भी बोलना चाहते थे, लेकिन स्पीकर ने उन्हें रोक दिया। मंगलवार को राज्यसभा के 17 मेंबर रिटायर हुए।
किसने क्या कहा?
# मां का जयकारा नहीं लगाने वाले कपूत
- केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बुधवार को कहा, ''अपनी मां का जयकारा नहीं लगाने वाले देश के सपूत नहीं कपूत हैं।
- ''आतंकवाद और पाकिस्तान का सपोर्ट करके भारत माता को खंडित करने की साजिश चल रही है।''
- उन्होंने राज्यसभा में दिए जावेद अख्तर के बयान का खुलकर सपोर्ट किया।
- इसके पहले कहा था, ''किसी भी नागरिक को भारत माता की जय बोलने में शर्म नहीं आनी चाहिए। अगर ऐसा है तो उसे मातृभूमि को प्रणाम कर कहीं और शरण लेनी चाहिए।''
# माफी मांगे जावेद अख्तर
- वारिस पठान ने कहा, ''जावेद साहब ने शेरवानी और टोपी की बात कहकर दुनियाभर के मुसमानों का अपमान किया है। उन्हें अपनी बातों पर मांफी मांगनी चाहिए।''
क्या कहा था ओवैसी ने लातूर में?
- बीते रविवार को महाराष्ट्र के लातूर में ओवैसी ने एक रैली में कहा था, "मैं भारत माता की जय नहीं बोलूंगा।"
- "कोई मेरी गर्दन पर भी चाकू रख दे, तब भी नहीं बोलूंगा। कॉन्स्टीट्यूशन में कहीं नहीं लिखा कि भारत माता की जय बोलो।"
- ओवैसी का ये बयान आरएसएस चीफ मोहन भागवत के लिए था। संघ प्रमुख ने कुछ दिन पहले कहा था, ''अब नौजवानों को भारत माता की जय बोलना सिखाना पड़ता है।''
- हालांकि मंगलवार को जब यूपी के एक कोर्ट में ओवैसी के खिलाफ देशद्रोह की PIL दाखिल की गई। तो इसके बाद उन्होंने कोर्ट के इंसाफ पर भरोसा जताते हुए 'जय हिंद' कहा।

नेपाल में स्वाइन फ्लू ने की एंट्री !

भारत से सटे नेपाल के जिलों में स्वाइन फ्लू ने अपना प्रकोप फैकना शुरू कर दिया है ! पोखरा , पाल्पा जिलों में स्वयंव फ्लू तेज़ी से फ़ैल रहा...