propeller

Wednesday, 20 January 2016

मौलाना जरजीस पर बलात्कार का आऱोप , बनारस के गांव जलालीपुरा की रिहाना परवीन (बदला हुआ नाम) ने शहर के एक चर्चित मौलाना जरजीस पर बलात्कार का आरोप लगाया है। पीड़िता ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मंजिल सैनी से इंसाफ मांगा। एसएसपी ने बनारस के एसएसपी से बात करके पीड़ित युवती को पुलिस अभिरक्षा में बनारस भेज दिया। 
मीडिया  रिपोर्ट्स के मुताबिक पीड़ित युवती इंसाफ के लिये दो दिन पूर्व इटावा आयी। यहां उसे कुछ मौलानाओं का समर्थन मिला। युवती मकसूदपुरा में एक घर में रुकी तो बीती रात आरोपी मौलाना के समर्थकों ने वहां भीड़ के साथ पहुंचकर हंगामा काटा। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और पीड़िता युवती को अपने साथ सुरक्षित थाने ले आयी। पीड़िता के कुछ समर्थकों ने एसएसपी से उनके आवास पर बातचीत की और पीड़िता की ओर से शपथ पत्र व एक प्रार्थना पत्र एसएसपी को दिया, जिसमें पीड़िता ने शहर के एक चर्चित मौलाना पर शादी का झांसा देकर अप्राकृतिक ढंग से लगातार यौन सम्बन्ध बनाने, शादी से इन्कार करने का आरोप लगाया है। इसके साथ ही पीड़िता सहित उसके परिवार को जान से मारने की धमकी भी दी है। पीड़िता ने शपथ पत्र में यह भी उल्लेख किया है कि आरोपी मौलाना ने बनारस में अपने साथियों के साथ जबरन अपने बचाव में शपथपत्र पर हस्ताक्षर करा लिये और जबरन उसके साथ बलात्कार किया।
एसएसपी मंजिल सैनी का कहना है कि उन्होंने बनारस के एसएसपी से बात करके पीड़िता की एफआईआर दर्ज कराने का आग्रह किया है। घटना बनारस की है इसलिए केस भी वहीं दर्ज होगा। एसएसपी ने बताया कि उन्होंने पीड़िता की पूरी बात सुनी और उसे इंसाफ दिलाने के लिए पुलिस अभिरक्षा में बनारस भेजा जा रहा है।
बताते चलें कि जरजिस अपनी तकरीरों के सिलसिले में देश और देश के बाहर जाते रहते है इसी दौरान बनारस में उनके रिहाना से संबध स्थापित हो गए।

नेपाल में स्वाइन फ्लू ने की एंट्री !

भारत से सटे नेपाल के जिलों में स्वाइन फ्लू ने अपना प्रकोप फैकना शुरू कर दिया है ! पोखरा , पाल्पा जिलों में स्वयंव फ्लू तेज़ी से फ़ैल रहा...