Add

Saturday, 2 December 2017

ओवैसी को कट्टरवादी बताने वालों के मुंह पर करारा तमांचा है ,AIMIM के हिन्दू प्रत्यासी भी जीते


         

ओवैसी को कट्टरवादी बताने वालों के मुंह पर करारा तमांचा है ,AIMIM के हिन्दू प्रत्यासी भी जीते
ओवैसी के पार्टी AIMIM के टिकट पर कानपुर नगर के चुन्नीगंज वार्ड में शरद कुमार  सोनकर ने जीत हासिल की है  ! इसके एलावा आज़मगढ़ में माहुल नगर पँचायत के वार्ड नं0 2 अंबेडकर नगर से भूखल राम भी AIMIM के टिकट पर चुनाव लड़  विजय घोषित हुए।

उत्तर प्रदेश में AIMIM के चौकाने वाले परिणाम


                                                         
Congratulations AIMIM Won 32 Seats in different Wards of 12 cities in Uttar Pardesh Municipal Elections.
Firozabad : 11
Mahul Azamgarh : 3
Sambhal : 2
Amroha : 2
Dasna Ghaziabad Chairman : 1
Meerut : 2
Kanpur : 1
Allahbad : 1
Bijnor : 3
Baghpat : 4
Sitapur : 1
Banda : 1
All India Majlis-e-Ittehadul Muslimeen

Tuesday, 24 October 2017

मिस्र ( EGYPT) के पिरामिड के बारे में रोचक जानकारियाँ !

मिस्र ( EGYPT) के पिरामिड के बारे में रोचक जानकारियाँ !
Ø मिस्र के पिरामिड वहां के तत्कालीन  (सम्राट) गणों के लिए बनाए गए स्मारक स्थल हैं, जिनमें राजाओं के शवों को दफनाकर सुरक्षित रखा गया है।
Ø इन शवों को ममी कहा जाता है। उनके शवों के साथ खाद्यान, पेय पदार्थ, वस्त्र, गहनें, बर्तन, वाद्य यंत्र, हथियार, जानवर एवं कभी-कभी तो सेवक सेविकाओं को भी दफना दिया जाता था।
Ø म्रिस के इस महान पिरामिड को लेकर अक्सर सवाल उठाये जाते रहे हैं कि बिना मशीनों के, बिना आधुनिक औजारों के मिस्रवासियों ने कैसे विशाल पाषाणखंडों को ४५० फीट ऊंचे पहुंचाया और इस बृहत परियोजना को महज २३ वर्षों मे पूरा किया.




Ø यह २५ लाख चूनापत्थरों के खंडों से निर्मित है जिनमें से हर एक का वजन २ से ३० टनों के बीच है।
Ø विशेषज्ञों के मुताबिक पिरामिड के बाहर पाषाण खंडों को इतनी कुशलता से तराशा और फिट किया गया है कि जोड़ों में एक ब्लेड भी नहीं घुसायी जा सकती।
Ø  मिस्र के पिरामिडों के निर्माण में कई खगोलीय आधार भी पाये गये हैं, जैसे कि तीनों पिरामिड आ॓रियन राशि के तीन तारों की सीध में हैं।
Ø वर्षों से वैज्ञानिक इन पिरामिडों का रहस्य जानने के प्रयत्नों में लगे हैं किंतु अभी तक कोई सफलता नहीं मिली है।
Ø  ग्रेट पिरामिड एक पाषाण-कंप्यूटर जैसा है। यदि इसके किनारों की लंबाई, ऊंचाई और कोणों को नापा जाय तो पृथ्वी से संबंधित भिन्न-भिन्न चीजों की सटीक गणना की जा सकती है।
Ø  ग्रेट पिरामिड में पत्थरों का प्रयोग इस प्रकार किया गया है कि इसके भीतर का तापमान हमेशा स्थिर और पृथ्वी के औसत तापमान २० डिग्री सेल्सियस के बराबर रहता है। यदि इसके पत्थरों को ३० सेंटीमीटर मोटे टुकड़ों मे काट दिया जाए तो इनसे फ़्रांस के चारों आ॓र एक मीटर ऊंची दीवार बन सकती है।
Ø  पिरामिड में नींव के चारों कोने के पत्थरों में बॉल और सॉकेट बनाये गये हैं ताकि उष्मा से होने वाले प्रसार और भूंकप से सुरक्षित रहे।
Ø  मिस्रवासी पिरामिड का इस्तेमाल वेधशाला, कैलेंडर, सनडायल और सूर्य की परिक्रमा में पृथ्वी की गति तथा प्रकाश के वेग को जानने के लिए करते थे।
Ø  पिरामिड को गणित की जन्मकुंडली भी कहा जाता है जिससे भविष्य की गणना की जा सकती है।

Ø कुछ लोग पिरामिडों में स्थित जादुई असर की बात भी करते हैं जो मानव स्वास्थ्य पर शुभ प्रभाव डालता है
Ø गिज़ा का सबसे बड़ा पिरामिड 146 मीटर उँचा था। ऊपर का 10 मीटर अब गिर चुका है। उसका आधार क़रीब 54 या 55 हज़ार मीटर का है। अनुमान है कि 3200 ईसा पूर्व उसे बनाया गया था। यह इसके बावजूद है कि उस समय की मिस्रियों की टेक्नोलॉजी शून्य के समान थी .

Source from Wikipedia 

Monday, 25 September 2017

हिजामा एक यूनानी इलाज (कपिंग थेरेपी)

हिजामा  एक  यूनानी    इलाज    है  जिस  के  ज़रिये  जिस्म  से  खराब  खून  निकाल  दिया  जाता  है  बगैर   कोई  दर्द ,  दवा  और  साइड  इफ़ेक्ट  के . इसकी थ्योरी यह है कि शरीर में कई बीमारी की वजह खून का असंतुलन होता है, कपिंग थेरेपी के जरिए इस ब्लड को बैलेंस कर देते हैं और बीमारी ठीक हो जाती है और पेशंट को जल्द आराम मिल जाता है।




जिसे आज के ज़माने में कपिंग थेरेपी कहते है ! कपिंग की मदद से कई स्वास्थ्य समस्याओं से निजात पाई जा सकती है जैसे , सर दर्द , पेट दर्द , साइन का दर्द . कमर का दर्द तनाव से मुक्ति आदि का इलाज करने का एक बहुत ही अच्छा तरीका है!हिजामा थेरेपी प्राकृतिक चिकित्सा की सबसे पुरानी पद्घति है।
कपिंग थेरेपी के उपयोग का एक प्रमुख कारण यह है कि यह दर्द से आराम दिलाता है। कपिंग वास्तव में सॉफ्ट टिशू को लक्ष्य बनाता है तथा सूजन और दर्द वाले स्थान पर दबाव डालता है। इससे रक्त प्रवाह बढ़ता है और टिशू को ऑक्सीजन और अन्य महत्वपूर्ण पोषक तत्व मिलते हैं। यह शरीर में गहराई तक टिशू को आराम पहुंचाता है, और अक्सर आमवात और माइग्रेन के कारण पीठ और गर्दन में होने वाली अकडन से आराम दिलाता है।



ओवैसी को कट्टरवादी बताने वालों के मुंह पर करारा तमांचा है ,AIMIM के हिन्दू प्रत्यासी भी जीते

          ओवैसी को कट्टरवादी बताने वालों के मुंह पर करारा तमांचा है ,AIMIM के हिन्दू प्रत्यासी भी जीते ओवैसी के पार्टी AIMIM के टिकट ...